बिना कडवा लगे करेले और प्याज की स्वादिष्ट सब्जी – Karele Ki Sabzi Recipe

करेला बहुत कड़वा होता है इसी कारण करेले की सब्जी बहुत लोगों को पसंद नहीं अति है. करेले की सब्जी बहुत ही हेल्थी सब्जी है. अगर आप करेले की सब्जी इस प्रकार बनाओगे तो सभी लोग जरूर खाएंगे. करेले की सब्जी बहुत ही स्वादिष्ट सब्जी है और साथ ही सेहत से भरपूर होती है. करेले की सब्जी को हम सुबह या शाम को रोटी,  पराठा और दाल के साथ सेवन कर सकते हैं. बिना कड़वा लगे करेले की सब्जी स्वादिष्ट सब्जी.

हम करेले की सब्जी अनेक प्रकार से बना सकते हैं. जैसे कि भरवा करेला, मसाला करेला, फ्राई करेला, आदि. इसे बनाना बहुत ही आसान और जल्दी बन कर तैयार हो जाती है. करेला खाने से हमारा खून और लीवर साफ होता है  और अनेक प्रकार के बीमारियों से हमें बचाता है. हमें करेले का कड़वा पन दूर करने के लिए करेले में नमक डालकर मिलाते है.

हम आज ऐसे करेले की सब्जी बनाएंगे की इसमें कड़वापन नहीं रहेगा और स्वाद मैं बहुत ही स्वादिष्ट रहेगा. करेला तो खाने में कड़वा होता है लेकिन इसे खाने से हमारे शरीर को अनेक फायदे मिलते हैं. आज हम करेले के साथ प्याज को मिलाकर बहुत ही स्वादिष्ट करेले की सब्जी बनाने वाले हैं. तो आइए देखते हैं  बिना कड़वा लगे करेले और प्याज की सब्जी ऐसे बनाएंगे. 

हलवाई स्टाइल आलू गोभी की सब्जी बनाने का आसान तरीका

पालक पनीर इस प्रकार बनाएंगे तो उंगलिया चाटते खाओगे 

दम आलू ऐसा बनाओगे तो मन कहेगा सारे मे ही खालू

करेले की सब्जी बनाने की सामग्री

करेला  250 ग्राम

प्याज  2 बड़े

हरी मिर्च  3

लहसुन की कलियां 4

तेल 2 से 3 चम्मच

जीरा ¼ छोटा चम्मच

राई ¼ छोटा चम्मच

नमक स्वादानुसार

धनिया पाउडर 1 छोटा चम्मच

आमचूर पाउडर ¼ छोटा चम्मच

लाल मिर्च पाउडर 1  छोटा चम्मच

हल्दी पाउडर ¼ छोटा चम्मच

गुड ½ छोटा चम्मच

करेले और प्याज की सब्जी बनाने की विधि – Karele Ki Sabzi Recipe

सबसे पहले करेले को पानी में साफ धोकर उसके ऊपर का छिलका चाकू से निकाल लीजिए.

अब करेले बारिक से काटकर इसमें से बीज निकालकर एक प्लेट में रख लीजिए. अब इसमें 1 छोटा चम्मच नमक मिलाकर 30 मिनट तक इसे रख दीजिए.

करेला 30 मिनट बाद पानी छोड़ देगा.

अब करेले को अपने दोनों हाथों से दबाकर इसका सारा पानी को निचोड़ लेना चाहिए.

इन करेले को और एक बार पानी में धोकर फिर से अपने दोनों हाथों से दबाकर सारा पानी निचोड़ कर इसे एक प्लेट में रख लीजिए.

अब प्याज, हरी मिर्च, लहसुन को बारिक से काट लीजिए.

अब कढ़ाई लेकर उस में तेल डालकर गर्म होने के लिए गैस पर रखिए.

तेल गर्म होने पर उसमें जीरा और राई डालिए.

अब इसमें प्याज और हरी मिर्च डालकर थोड़ा हल्का ब्राउन होने तक भुन लीजिए.

प्याज के ब्राउन होने पर इसमें करेला डालकर मिला लीजिए और इसे 5 से 6 मिनट तक अच्छे से पकने दीजिए.

अब इसमें लाल मिर्च पाउडर, हल्दी पाउडर, धनिया पाउडर और नमक डालकर इन सारी चीजों को अच्छे से मिक्स कर कर फिर से 5 मिनट तक पकने दीजिए.

5 मिनट के बाद करेले को एक बार चेक कीजिए.

करेले के अच्छे से पकने पर अब इसमें आमचूर पाउडर और गुड डालकर मिला लीजिए.  

 इसे अब 1 से 2 मिनट तक और पकने दीजिये. अब गैस को को बंद कर दीजिए.

अब बिना कडवा लगे करेले और प्याज की स्वादिष्ट सब्जी बनकर तैयार है. अब इसे हम एक प्लेट में निकाल कर  चपाती या पराठे के साथ परोस सकते हैं.

दोस्तों इस स्वादिष्ट करेले और प्याज की रेसिपी को आप भी एक बार बनाना जरूर ट्राई करें और हमें कमेंट और फॉलो करना ना भूलें.

सुझाव:  करेले का कड़वापन जाने के लिए हमें करेलो में नमक मिलाकर 30 मिनट तक रखना चाहिए. 30 मिनट बाद इसे अपने हाथों से दबा कर सारा रस को निचोड़ लेना चाहिए.

करेले का कड़वापन कैसे दूर करें?

करेले को चाकू से टुकड़ों में काटकर इसे एक घंटे के लिए दही में रख दीजिए. ऐसा करने से करेले का कड़वापन दही अपने में सोख लेगा और करेला खाने में कड़वा नहीं दिखेगा. 

रात ko करेला क्यों नहीं खाना चाहिए?

करेला का सेवन रात में नहीं करना चाहिए. इसका सेवन रात में करने से हमारे शरीर मैं स्वास्थ्य संबंधित समस्याएं बढ़ जाने का खतरा है. यदि आप रात को खाना ही चाहते हैं. करेले के बीच निकाल कर करेले को सरसों के तेल में पकाए. इस प्रकार सेवन करने से हम स्वास्थ्य संबंधित समस्याओं से बच सकते हैं.

करेले की सब्जी खाने के क्या फायदे हैं?

करेले खाने के अनेक फायदे हैं 
रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाता है.
जोड़ों के दर्द से राहत देता है.
मोटापा से राहत दिलाता है.
पाचन शक्ति बढ़ाता है.
खूनी बवासीर में आराम दिलाता है.
पेट के कीड़ों को साफ करता है.
कब्ज में लाभकारी दिलाता है.
मुंह में छालों से राहत दिलाता है.
कप में आराम दिलाता है. 

करेला कड़वा क्यों होता है?

करेला एक ऐसी सब्जी है जिसे सभी सब्जियों में से कड़वी सब्जी मानी जाती है. कड़वी रहने के कारण कहीं लोग इसे पसंद नहीं करते हैं. करेले  के फल सहित पौधे के सभी भाग मोमोरडिसिन नामक यौगिक की उपस्थिति के कारण करेला कड़वे होता है.

करेले में क्या पाया जाता है?

करेले में पोटैशियम, मैग्नीशियम, कैरोटीन, बीटाकैरोटीन, लूटीन, आइरन, जिंक और मैगनीज जैसे भी पाए जाते हैं जो सेहत के लिए जरूरी है। इसके अलावा इसमें विटामिन A,B,C की मात्रा ज्यादा रहती है. करेले का सेवन करने से हमारी इम्यूनिटी पड़ती है और मधुमेह जैसे बीमारियों से भी राहत मिलती है.

करेला खाने के बाद कितनी देर बाद दूध पीना चाहिए?

करेला और अंडा हमारे स्वास्थ्य के लिए खाना बहुत ही जरूरी है. अंडे खाने से हमें  प्रोटीन और कैल्शियम की मात्रा मिलती है. करेला एक एंटीऑक्सीडेंट के जैसा काम करता है. 

करेला का जूस कब पीना चाहिए?

करेले के जूस को हम सुबह और शाम को खाली पेट ले सकते हैं. हम इसे खाना खाने के आधे घंटे पहले भी इसका सेवन कर सकते हैं. जब भी आप करेले का जूस को पीने जा रहे हो तब करेले का जूस की बोतल को अच्छे से हीला लीजिए.

kitchen hindi
kitchen hindi
Articles: 136

2 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

x